IPO Grey Market क्या है ? निवेश कैसे करें

IPO Grey Market क्या है ? निवेश कैसे करें

अगर आप भी IPO Grey Market के इन्वेस्टर हैं तो आपको यह जरुर पता होना चाहिए कि IPO Grey Market kya hai और यह किस तरह Work करता है 2021 के बाद आईपीओ में काफी ज्यादा उछाल आई है अब हर कोई अपनी कंपनी का आईपीओ लॉन्च कर रहा है क्या जानते हैं इसका तात्पर्य क्या हो सकता है आईपीओ लाना कसीदा सीधा रात भर रही है होता है कि वह कंपनी अपने शहर को मार्केट में अथवा लोगों बेचना चाहती है जब भी किसी कंपनी का आईपीओ आता है तो उसके शेयर्स धूम-धड़ाके तरीके से बिकते हैं जिससे कि उस कंपनी को काफी ज्यादा मुनाफा की ओर ले जाता है 

IPO Grey Market क्या है | IPO Grey Market Premium ? जानिए पूरी जानकारी हिंदी में

आज किस पोस्ट में हम जानेंगे IPO Grey Market kya hai  और लोग इसका कैसे इस्तेमाल करते हैं अपने पैसे को इन्वेस्ट करने के लिए आईपीओ ग्रे मार्केट प्रीमियम में लोग बाग जमकर अपने पैसे को इन्वेस्ट कर रहे हैं आज किस पोस्ट में आपको आईपीओ ग्रे मार्केट प्रीमियम के बारे में अधिक से अधिक जानकारी देने का प्रयास करेंगे चलिए फिर जानते हैं 

IPO Grey Market kya hai ?

IPO Grey Market क्या है ?

IPO Grey Market एक ऐसा प्लेस है जहां पर अनऑफिशियल तरीके से कंपनी के शेयर रिट्रेडिंग की जाती है उसको हम कुछ इस तरीके से समझ सकते हैं जब भी कोई नया आईपीओ लॉन्च होता है उससे पहले ही आईपीओ ग्रे मार्केट की प्रक्रिया शुरू हो जाती है और ट्रेडर्स ट्रेडिंग करना स्टार्ट कर देते हैं इस मार्केटप्लेस को हमने अनऑफिशियल इसलिए कहा क्युकी इस मार्किट में कोई रूल्स लागू नहीं होते यहां पर सुनिश्चित तरीके से कार्य किया जाता है 

IPO Grey Market का उपयोग कंपनियां कुछ इस प्रकार करती हैं जब भी वह अपना कोई आईपीओ लॉन्च करती हैं उससे पहले आईपीओ ग्रे मार्केट पर उस प्रक्रिया की जांच की जाती है जिससे कंपनी को अपने आईपीओ की गणना करने में आसानी होती है तो उसको पता चल जाता है कि क्या वैल्यूएशन है मेरे आईपीओ की और उसके साथ साथ किसके आईपीओ की डिमांडिंग भी काफी ज्यादा जाती है इसलिए कंपनियां ग्रे मार्केट के द्वारा अपने आईपीओ उसका लाभ उठाती हैं

Grey Market Premium kya hai  ?

यह ग्रे मार्केट का दूसरा पार्ट है जिसको हम Grey Market Premium कहते हैं इस मार्केट का जो Premium शब्द है वह बहुत कुछ दर्शाता है इस मार्केट के बारे में जैसे ग्रे मार्केट कंपनी की सेल्स की ट्रेनिंग होती है ठीक उसी तरह जब किसी कंपनी का शेर का प्राइस ₹200 होता है 

Grey Market Premium पर उसका प्राइस 300 है इस चीज को देखकर आती है समझ सकते हैं कि रिटेलर्स या कंपनी उस शेअर को 300+100 यानि 400 रूपे में खरीदना होगा ग्रे मार्केट प्रीमियम का कुछ यही व्याकरण है जिसको पढ़ कर आप समझ सकते हैं कि आखिर ग्रे मार्केट पर ऐसा क्या होता है जो किसको प्रीमियम शब्द से परिभाषित किया गया है 

Grey Market Trading किस लिए की जाती हैं ?   

ग्रे मार्केट ट्रेडिंग इन्वेस्टर काफी लंबे समय से करते आ रहे हैं और वह इस मार्ग में काफी अच्छा भी कर रहे हैं ग्रे मार्केट ट्रेडिंग के कार्य को हम कुछ साधारण शब्दों के द्वारा समझने की कोशिश करते हैं रिटेलर यह इन्वेस्टर को कभी है आभास होता है इस फलाना कंपनी के शेयर फ्यूचर्स में बढ़ने वाले हैं 

तो वह उस कंपनी के शेयर स्कोर लिस्ट होने से पहले ग्रे मार्केट ट्रेडिंग पर खरीद सकता है मार्केट में इसकी डिमांडिंग देखकर और इसकी सप्लाई पर अनुभव करके ही ग्रे मार्केट ट्रेडिंग की जाती हैं 

चुकी है एक इनऑफिशल मार्केटप्लेस होता है जहां पर कोई भी नहीं है नियम या रेगुलेशन नहीं होता है यहां पर आप कभी भी उस लिए हुए शेर से बाहर हो सकते हैं मान लीजिए जब भी कंपनी का आईपीओ आता है एक्सचेंज पर लिस्ट होने से पहले ट्रेडर बड़ी आसानी से कंपनी से बाहर हो सकते हैं और इसका उपयोग काफी ज्यादा ट्रेडर्स करते हैं इसलिए लोग ग्रे मार्केट का उपयोग करना ज्यादा पसंद करते हैं एक बहुत ही संपूर्ण मार्केटप्लेस होता है ऐसे लोगों का मानना है और वह मानते भी हैं

Kostak Rate kya hai ? 

ग्रे मार्केट का एक नया हिस्सा निकल कर सामने आता है जब ट्रेडर किसी भी कंपनी के शेयर को बाय कर लेता है उनसे और को लिस्ट होने से पहले अगर उसको बेचना है तो वह अपने से शेयर्स को बेचकर जो पैसे उसके पास आते हैं उसको हम Kostak Rate के नाम से जानते हैं  

Kostak Rate को हम कुछ इस तरह समझ सकते हैं जैस मान लीजिए ऑफ एक बायर है अपने किसी आईपीओ में अप्लाई किया है लेकिन आप उसको सब्सक्राइब नहीं करना चाहते और वह कोई भी कारण हो सकता है 

तो ऐसे में आप क्या कर सकते हैं आपकी एप्लीकेशन को किसी ऐसे बायर को भेज सकते हैं जो कि इसमें इंटरेस्ट रखता हूं जो एप्लीकेशन ऑफ बेच रहे हैं वह उस वायर को ट्रांसफर कर दी जाएगी और हां वह एप्लीकेशन ऑफ फायर के नाम से ही सब्सक्राइब की जाएगी इसके द्वारा जो निवेशक कमाई करेगा उसको हम कोस्टक रेट कहते हैं आशा करते हैं हमारे द्वारा जो उदाहरण दिया गया है उससे आप कोस्टक रेट को आसानी से समझ गए होंगे।

Kya Grey Market Premium Legel hai ? 

चुकी यह हम पहले ही बता चुके है कि यह एक अनऑफिशियल मार्केटप्लेस होता है जहां पर ट्रेडर्स के लिए कोई कोई नियम एवं रेगुलेशन लागू नहीं होते हैं इसी कारण ग्रे मार्केट को कोई मैनिपुलेट नहीं कर पाता इसकी शुरुआत कुछ लोगों की सहमति के द्वारा हुई है

 इसलिए यहां पर कोई रूल रेगुलेशन फॉलो नहीं किया था और यहां पर किसी खरीदारी की कोई जिम्मेदारी नहीं होगी इस बात को सेबी का कहना है इस प्रकार से ग्रे मार्केट को लोग एलीगल नहीं मानते क्योंकि यहां पर कोई रूल रेगुलेशन फॉलो नहीं किया जाता है 

आज हमने क्या सीखा : 

आज हमने जाना IPO Grey Market क्या होती है और यह क्यों अनऑफिशियल तरीके के बरसो से चल रही है.और हमने यह भी जाना की IPO Grey Market में कोई रूल्स और रेगुलेशन लागू नहीं है. ओर हमने जाना Grey Market Premium क्या होता है आखिर Premium का मतलब क्या है 

ओर ये कंपनी Grey Market Premium फायदा किस तरह से उठती हैं. चुकी यह अनऑफिशियल तरीके से यह मार्किट प्लेस चलाता है तो क्या यह लीगल है यह भी हमने अपको पुरी डिटेल्स में बताया है और हमने यह भी जाना है Kostak Rate का उपयोग किस तरह किया जाता है 

यह पोस्ट IPO Grey Market kya hai | IPO Grey Market Premium ? जानिए पूरी जानकारी हिंदी में आपको कैसी लगी कमेंट में अपना फीडबैक जरूर दे ताकि हम आपने कॉन्टेंट को आपके लिए और अच्छा बना पाए अगर इस पोस्ट से रिलेटेड आपका कोई क्वेश्चन है तो आप बो भी कॉमेंट के द्वारा पूछ सकते है अगर आपको इस तरह का कॉन्टेंट चाहिए तो प्लीज कमेंट जरुर करे चालिए मिलते हैं फिर किसी अन्य पोस्ट में 

Onlinebeeindia

I am the owner of this blog, I have created this blog to help people so that they can read from my block and know about the online world, if possible from all those things, on this blog you will get all kinds of information in Hindi

Post a Comment

Don't Spam

Previous Post Next Post