Demat Account क्या हैं ? | डिमैट खाता कैसे खोले

Demat Account क्या हैं ? | डिमैट खाता कैसे खोले

जब से शेयर मार्केट का चाल चलन स्टार्ट हुआ है तब से डीमेट अकाउंट नाम का शब्द काफी प्रचलित हो रहा है अपने कभी ना कभी दो डीमेट अकाउंट का नाम सुना ही होगा आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे Demat Account क्या हैं ? - Demat Account Meaning In Hindi अगर आप भी जानना चाहते हैं
Demat Account क्या हैं ? | डिमैट खाता कैसे खोले

डिमैट अकाउंट क्या होता है तो बने रहिए हमारे इस ब्लॉग पोस्ट के साथ डीमेट अकाउंट के बारे में आपको सभी प्रकार की जानकारियां हासिल हो जाएंगी 

डीमैट अकाउंट क्या हैं ? 
Demat Account Meaning In Hindi : डीमेट अकाउंट को इलेक्ट्रॉनिक रूप से आयोजित किया जाता है आपके डीमैट खाते परमुख सामग्री का भागीदारी होता है जैसे आपकी शेयर , प्रमाण पत्र एबेम कुछ अन्य क्रियाओं के लिए एक खाते के समान होता है आप डीमैट खाते का उपयोग मुख्य रूप से इन प्रक्रियाओं के लिए करते हैं 
जेसे शेयर , म्यूचुअल फंड , बीमा , सरकारी प्रतिभूतियों एवं कुछ अन्य प्रकार के निवेश को रखने के लिए डीमेट अकाउंट को आयोजित किया जाता है क्योंकि यह डिजिटल तरीके से कार्य करता है आप अपना डिमैट अकाउंट डिजिटल तरीके से उपयोग करते हैं जहां आपको शेयर्स के कागज या न प्रकार के डॉक्यूमेंट से दूर रखता है 

डीमेट अकाउंट के प्रयोग करने में कोई भी कागजी कार्रवाई का आवेदन शामिल नहीं है यह सभी डिजिटल रूप से कार्य करता है डीमेट अकाउंट के आधार पर आपको कोई भी कागजी कार्यवाही मुख्य रूप से सम्मिलित नहीं है 

जब भी आप किसी कंपनी का शेयर खरीदते हैं तो वह डिजिटल तरीके से आपके नाम पर रजिस्टर कर दिया जाता है आपको कोई भी कागजी फॉर्म का उपयोग करना नहीं पड़ता यह प्रक्रिया डिजिटल रूप से की जाती है जब भी आप किसी कंपनी के शेयर खरीदते हैं तो आपको जो भी कैपिटल मिलता है वह आपके डीमेट अकाउंट में डिजिटल रूप से ट्रांसफर कर दिया जाता है अभी जो भी एंट्री होती है वह डिजिटल रूप से पूर्ण कर दी जाती है 

डिमैट खाता फूल फॉर्म ? | Demat Account Full Form In Hindi 

डिमैट अकाउंट का पूरा नाम De-materialized Account होता है यह अकाऊंट पूरी तरह से इलेट्रॉनिक रूप से आयोजित किया जाएगा है यह अकाऊंट सिक्योर होता है 

डीमैट अकाउंट के प्रकार ? | Types of Demat Account
डिमैट का मतलब तो आप समझ चुके हैं अब हम जानने की डीमैट खाता कितने प्रकार के होते हैं चालिए जानते हैं डिमैट मुख्य रूप से तीन प्रकार के होते हैं 

• नियमित डीमैट अकाउंट इस डीमैट अकाउंट आयोजन मुख्य रूप से उन लोगों के लिए किया गया है जो की भारत के निवासी हैं वह नियमित डीमैट अकाउंट का उपयोग करते हैं

• अपाक्षीण डीमैट अकाउंट इस प्रकार के डिमैट अकाउंट का उपयोग वह लोग करते हैं जो की अनिवासी भारतीय होते हैं जो विदेशों में रहकर अपना कार्य करते हैं जैसे बाहर से मनी ट्रांसफर करना इत्यादि अपाक्षीण डीमैट अकाउंट के अंडर आता है लेकीन इसके लिए आपको एनआरई बैंक अकाऊंट के लिंक कराना होगा तभी आप अपनी प्रकारिया सुरु कर सकते हैं 

• गैर-प्रतिगामी डीमैट अकाउंट यह डिमैट अकाउंट सबमें लास्ट ने आता है क्योंकि यह मुख्य रूप से एनआरआई के लिए होता है गैर-प्रतिगामी डीमैट अकाउंट विदेशों में मनी ट्रांसफर बिकुल्प संभव नहीं है 

डिमैट अकाउंट कोन खोलता है ? 
अगर आप भी डिमैट अकाऊंट खुलवाना चहते हैं तो भारत में मात्र दो ऐसी संस्था है जहा पर आप अपना डिमैट अकाउंट खुलवा सकते हो 
> NSDL 
> CDSL 
यह दो संस्थाएं है जहा पर आप अपना डिमैट अकाऊंट खुलवाना सकते हो यह डिमैट अकाउंट आप ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हो यह दो संस्थाएं के लगभग 500 से 600 स्थान जो की अपको अपके एरिया में आराम से मिल जायगा 

कुछ ऐसी ब्रोकर जहां पर अपना डिमैट अकाऊंट खुलवाना सकते हो 
Best Demat Account In India ? 
Comming soon ? 
•  Zerodha Demat Account Open 
•  Upstox Demat Account Open 
•  Angel Broking Demat Account Open 
•  India Infoline Demat Account Open 
•  Sharekhan Demat Acccount Open 
•  Motilal Oswal Demat Account Open 
•  ICICI Direct Demat Account Open 
•  HDFC Securities Demat Account Open
•  Kotak Securities Demat Account Open 

डीमैट अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेज ? 
डीमैट अकाउंट ओपन करने के लिए आप नीचे दी गई डॉक्युमेंट लिस्ट के अनुसार आप अपना डिमैट अकाउंट खुलवा सकते हैं 
• आधार कार्ड 
• पैन कार्ड 
• पते का प्रमाण पत्र 
• ड्राइविंग लाइसेंस 
• पासपोर्ट 
• बैंक बुक
• इनकम टॅक्स रिटन प्रॉफ 
• कैंसल चैक 
• एक पासपोर्ट साइज़ फोटो
यह डॉक्युमेंट लिस्ट जो हमने अपको दी है इन सभी डॉक्युमेंट का उपयोग डिमैट अकाऊंट में किया जाता है 

Demat Services Meaning In Hindi ? 
डिमैट खाता को को इलेक्ट्रॉनिक रूप से बनाया गया है यह तो आपने ऊपर पढ़ लिया होगा हम जानेंगे डीमेट सर्विस क्या होती है डिमैट अकाउंट मुख्य रूप से जैसे हमारे नॉर्मल बैंक अकाऊंट होते है कुछ इस तरह कार्य करता है

 यह पूरी तरह से फिजिकल होता है हमारे शेयर को भी फिजिकल रूप से परिवर्तित करता है डिमैट अकाउंट मुख्य रूप से भारत में दो सेवा प्रदान करते हैं सेंट्रल डिपॉजिटरी सर्विस लिमिटेड , नेशनल सिक्योरिटीज डिपॉजिटरी सर्विसेज लिमिटेड होते है 

demat account holder meaning in hindi ? 
जिसके नाम पर डिमैट अकाउंट बना होता है वह डिमैट अकाउंट होल्डर कहलाता है डिमैट अकाउंट के द्वारा वह अपने शेअर अबेमप्रतिभूतियों को खरीदने और बेचने के लिए डिमैट अकाउंट का उपयोग करता है शेयर मार्किट में डिमैट अकाऊंट पहला चरण होता है यानि शेअर मार्किट मै इन्वेस्ट करने के लिए सबसे पहले आपको डिमैट अकाऊंट की आवश्यकता होती हैं तभी आप अपनी शेअर मार्किट मै ट्रैडिंग कर पाते हैं 

Onlinebeeindia

I am the owner of this blog, I have created this blog to help people so that they can read from my block and know about the online world, if possible from all those things, on this blog you will get all kinds of information in Hindi

Post a Comment

Don't Spam

Previous Post Next Post